ई-नाम ऑनलाइन किसान पंजीकरण, E nam Ragistration, enam.gov.in Portal

ई-नाम ऑनलाइन किसान पंजीकरण कैसे करे? E nam Ragistration , how to apply online? know the official website, जानिए पात्रता व मुख्य दस्तावेज

किसानो के लिए आये दिन सरकार द्वारा कोई न कोई योजना की शुरुआत की जाती है. कोरोना जैसी भयानक महामारी ने जबसे देश में दस्तक दी है तब से हालत बिगड़ गए है, किसानो को भी खासा नुकसान झेलना पड़ रहा है. किसानो को खेती करने के साथ ही अपने अनाज को बेचने में भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में देश के प्रधानमंत्री द्वारा इस समस्या को देखते हुए एक योजना की शुरुआत की गयी है जिसमे किसान ऑनलाइन अपनी फसल बेच सकते है. हम आपको बताने जा रहे है.

इस नयी योजना के बारे में जिसका नाम है ई-नाम ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, यह योजना क्या है ? इस योजना का लाभ क्या है? इस योजना के अंतर्गत कैसे आवेदन करना है? इसका उद्देश्य, पात्रता, मुख्य दस्तावेज आदि के बारे में हम आपको बताने जा रहे है इस बारे में अधिक जानकारी विस्तार से प्राप्त करने के लिए आपको हमारे द्वारा लिखा जा रहा यह आर्टिकल पूरा पड़ने की ज़रूरत है.

E nam Online Ragistration

e naam पोर्टल को शुरू कर सरकार द्वारा राष्ट्रीय बाजार बनाने हेतु मौजूदा एपीएमसी मंडियों को ऑनलाइन नेटवर्क से जोड़ा जा रहा है. इस योजना को संचालित भारत सरकार के कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है यह इसकी प्रमुख एजेंसी है. अब देश के किसानो को अपनी फसल बेचने की चिंता नहीं रहेगी वह अपने घर बैठकर ऑनलाइन माध्यम से बेच सकते है. इसके साथ ही फसल बेचने के बाद यह राशि सीधे बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दी जाएगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दे की सरकार द्वारा शुरू की गयी इस ऑनलाइन सेवा यानि की ई नाम पोर्टल को शुरू किये 5 साल पूरे हो चुके है इस पांचवी वर्षगाठ पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने देश के किसानो के लिए तीन नयी सुविधाओं को लॉन्च किया है. इस तीन सुविधाओं के अंतर्गत उपज से सम्बंधित किसानो की सुविधाओं के लिए ई-नाम पर मंडी जानकारी पृष्ठ, ई-नाम प्लेटफॉर्म के साथ आईएमडी मौसम पूर्वानुमान सूचना का एकीकरण और सहकारी मॉड्यूल को लॉन्च किया है.

देश के लगभग 1.70 करोड़ से अधिक किसान और 1.63 लाख व्‍यापारी ई-नाम पंजीकरण पोर्टल पर अपना पंजीकरण करवा चुके है. ई नाम पोर्टल पर ऑनलाइन बेचने के लिए फसल को अपलोड कर सकते है और बड़ी ही आसानी से अपनी फसलों को बेच सकते है. इस योजना को शुरू करने का उद्देश्य देश के किसानो को फसल बेचने में आसानी हो उन्हें कही इधर उधर भटकने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी वह अच्छे दामों में विश्वासपात्र लोगो को अपनी फसल बेच सकते है. इस योजना के अंतर्गत फसल बेचने के बाद इसकी राशि सीधे लाभार्थी के बैंक अकॉउंट में ट्रांसफर कर दी जाएगी.

HIGHLIGHTS : e nam Kisan Registration

  • e nam portal पर सभी एपीएमसी से संबंधित सूचना और सेवा एक ही जगह पर नागरिको को उपलब्ध करवाई जा रही है.
  • किसान भाई अपनी फसल ऑनलाइन इस पोर्टल के माध्यम से बेच सकते है, इससे समय के साथ ही पैसे की भी बचत होगी.
  • अब किसानो को इस योजना के आ जाने से बिचौलियों और आढ़तियों पर निर्भर नहीं रहना होगा.
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा अब तक देश की 585 मंडियों को ई-नाम के तहत जोड़ा है.
  • इस योजना के अंतर्गत दो राज्यों के बीच काम किया जाना संभव हो गया है.
  • बता दे कि इस पोर्टल की शुरूआत 14 अप्रैल 2016 को की गई थी.
  • इस पोर्टल के अंतर्गत सरकार द्वारा इस साल 200 मंडियों को जोड़ा जाएगा.

योजना की पांचवी वर्षगाठ पर तीन नयी सुविधाओं को किया गया लॉन्च

20 अप्रैल 2021 को ई नाम पोर्टल को 5 साल पूरे हो चुके है, इस पांचवी वर्षगाठ पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने देश के किसानो के लिए तीन नयी सुविधाओं को लॉन्च किया है. जोकि निम्न प्रकार से है.-

  • पहली है ई-नाम पर मंडी जानकारी इससे देश के किसानो को इ नाम मंडी पोर्टल पर बेचीं जाने वाली उपजो को वास्तविक समय मूल्य प्रदान करने के लिए ये सुविधा शुरू की गयी है.
  • दूसरा है सहकारी मॉड्यूल इसमें सहकारी समिति उपजो को अपने गोदामों से एपीएमसी पर लाये बिना ही किसान अपने खेत के के पास अपनी फसल का व्यापार कर सकते है.
  • आईएमडी मौसम पूर्वानुमान सूचना का एकीकरण इस सुविधा के अंतर्गत देश के किसानो को ई नाम मंडियों की सूचना और मौसम की जानकारी जैसे आंधी ,तूफान की सूचना और न्यूनतम तापमान की सूचना की प्रदान की जाएगी और साथ ही साथ वर्षा वाले क्षेत्रो की भी जानकारी प्रदान की जाएगी.

जानिए योजना की पात्रता व मुख्य दस्तावेज

राज्य के जो भी इक्छुक नागरिक e nam Portal के अंतर्गत लाभ लेने के लिए आवेदन करना चाहते है वह आवेदन करने के पहले इसकी पात्रता व मुख्य दस्तावेज ज़रूर जान ले. हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इसके बारे में सम्पूर्ण जानकारी विस्तार से प्रदान करने जा रहे है, जानने के लिए आपको हमारे साथ बना रहना होगा, निचे बताई जा रही पात्रता निम्न है-

  • आवेदक केवल किसान होना अनिवार्य है.
  • देश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है.
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • स्थाई निवासी प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • बैंक अकाउंट डिटेल्स
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

जानिए e nam Portal पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया-

enam portal
  • अब होम पेज में Registration के ऑप्शन पर क्लिक करना है.
e nam portal login
  • इस पर क्लिक करने के बाद एक नया पेज खुलेगा, इसमें आपको रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुला दिखाई देगा. इसमें पूछी गयी सभी जानकारी को आपको भरना है जैसे की किसान पंजीकरण प्रकार, स्तर का चयन कर सकते हैं नाम , जन्मतिथि , आधार नंबर , बैंक विवरण आदि. इसके बाद किसानों को पासबुक की कॉपी कॉपी या रद्द किए गए चेक और आईडी प्रूफ की स्कैन कॉपी भी अपलोड करनी होगी.
  • यह सभी जानकारी भरने के बाद अब आपको सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना है.
  • अब आवेदक को इसका प्रिंट आउट निकल कर भविष्य के लिए संभल कर रखना है. अब यह पंजीकरण करने के बाद अब लॉगिन करना है.
  • लॉगिन करने के लिए सबसे पहले होम पेज में जाना है अब यहां लॉगिन के ऑप्शन पर क्लिक करना है,
  • इस पर क्लिक करने के बाद एक नया पेज खुलेगा इसमें आपको यूजरनाम ,पासवर्ड और कैप्चा कोड डालकर लॉगिन के बटन पर क्लिक करना है, इस तरह से आपका लॉगिन हो जायेगा.

ई-एनएएम पोर्टल किसान ऑनलाइन पंजीकरण दिशानिर्देश डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले ई नाम की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाये.
  • अब होम पेज में Resoures के ऑप्शन में से Registration Guidelines के ऑप्शन पर क्लिक करना है.
enam portal login process
  • जैसे ही आप इस पर क्लिक करेंगे आपके सामने Registration Guidelines खुल जायेगा इसके बाद यहां आप रजिस्ट्रेशन कर सकते है.

जानिए ई नाम मोबाइल एप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आवेदक को मोबाइल में गूगल प्ले स्टोर खोलना है.
  • इसके बाद सर्च बॉक्स में ई नाम एंटर कर सर्च करे.
  • सर्च करने के बाद आपके सामने स्क्रीन पर इससे संबंधित एप की सूची खुल कर आ जाएगी.
  • अब सबसे ऊपर वाले आधिकारिक एप पर क्लिक कर इनस्टॉल के ऑप्शन पर क्लिक कर दे.
  • इस तरह से यह एप आपके फ़ोन में डाउनलोड हो जायेगा और आपकी इस एप को डाउनलोड करने की प्रक्रिया भी पूरी हो जाएगी.

e nam Portal FaQs

e nam Portal क्या है?

इस पोर्टल को सरकार द्वारा शुरू किया गया है इसके माध्यम से देश के किसान भाई अपनी फसल ऑनलाइन बेच सकते है और यह राशि सीधे लाभार्थी के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दी जाएगी.

e nam Web Portal पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

इस पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया हमने अपने इस आर्टिकल में बताई है जानने के लिए आपको यह आर्टिकल पूरा पढ़ना होगा.

इस पोर्टल पर आवेदन करने की पात्रता क्या है ?

इसमें केवल किसान भाई ही आवेदन कर सकते है और इसका लाभ ले सकते है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *